हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के सरला देवी की मौत का सच आया बाहर : क्यों और कैसे ?

By | 03/07/2018

sarla devi death reason after post martem

हिमाचल प्रदेश के मंडी जिला की बल्हघाटी के राजगढ़ गांव में सरला देवी की हत्या का सच आखिर सामने आ गया है। सरला देवी की हत्या उसके पति भूपेंद्र पाल ने ही की थी. पति ने पुलिस के पास अपना जुर्म कबूल कर लिया है। अपनी पत्नी सरला देवी के चरित्र को लेकर भूपेंद्र के मन में शक था, इसी वजह से उसने अपनी पत्नी की हत्या कर दी।

पुलिस ने अब आरोपी पति को धारा 307 के तहत गिरफ्तार कर लिया है. अभी तक जो बातें सामने आई हैं उससे तो यही लग रहा है कि भूपेंद्र पाल को अपनी पत्नी पर शक था. भूपेंद्र गांव के ही एक युवक पर पत्नी के साथ प्रेम प्रसंग होने का शक करता था.

  • झगड़ा कैसे शुरू हुआ ?

26 जून को भी सरला देवी के पास नया मोबाईल फोन देखकर दोनों का झगड़ा शुरू हुआ. लेकिन झगड़ा ख़त्म होने के बाद, भूपेंद्र अपने काम पर चला गया और शाम को शराब की बोतल के साथ घर पहुंचा. घर पर उसने शराब भी पी और पत्नी के साथ फिर रात भर झगड़ा करता रहा। रात में जब बहुत ज्यादा कहासुनी हो गयी तो उस दौरान उसने पत्नी का गला दबाया और उसे मौत के घाट उतार दिया. इसके बाद उसने लाश को दूसरे कमरे में रख दिया. छत से एक दुप्पटा लटका दिया और परिवार वालों को बताया कि उसकी पत्नी ने आत्महत्या कर ली है, जबकि लाश फर्श पर पड़ी हुई थी. लाश को रत्ती अस्पताल ले गया जहां से डॉक्टरों ने पुलिस को सूचित किया की यह खुदकशी नहीं बल्कि हत्या का मामला है।

पुलिस ने शक के आधार पर भूपेंद्र को हिरासत में लिया गया। शुरआत में ना से शुरू करनेवाला भूपेंद्र पुलिस के सामने ज्यादा देर तक नहीं टिक पाया और
उसने अपना जुर्म कबूल करके पुलिस को सारी कहानी बता दी। जिस युवक पर आरोपी ने पत्नी के साथ प्रेम प्रसंग होने का शक जताया है, वह फरार बताया जा रहा है. इसके गिरफ्त में आने के बाद पुलिस इस युवक से भी पूछताछ करेगी.